इंग्लैंड के खेली जा रही टेस्ट सीरीज के लगातार चौथे टेस्ट मैच में रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) को प्लेइंग इलेवन में जगह ना दिए जाने से फैंस समेत कई क्रिकेट समीक्षक हैरान हैं।Also Read - IPL 2021: RCB कप्तान कोहली को यकीन- यूएई कि पिचों पर फायदेमंद साबित होंगे हसारंगा और चमीरा

ओवल में खेले जा रहे चौथे टेस्ट से शुरू होने से पहले जब विराट कोहली ने प्लेइंग इलेवन का ऐलान किया तो शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) और उमेश यादव (Umesh Yadav) को अश्विन पर प्रायिकता दिए जाने से फैंस हैरान हुए। Also Read - Anil Kumble नहीं बनेंगे हेड कोच, VVS Laxman को मिल सकता है ऑफर!

ट्विटर पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कई फैंस ने ये कहा कि टीम इंडिया को रवींद्र जडेजा की जगह अश्विन को प्लेइंग इलेवन को प्लेइंग इलेवन में जगह देनी चाहिए। हालांकि पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ऐसा नहीं मानते। Also Read - T20 World Cup 2021: Virat Kohli को BCCI से बात करनी थी... कप्तानी छोड़ने के फैसले से नाखुश Kapil Dev

भारत-इंग्लैंड सीरीज में कमेंट्री कर रहे चोपड़ा का कहना है कि जडेजा केवल एक बल्लेबाज या गेंदबाज नहीं एक पूर्ण ऑलराउंडर है और इसी क्वालिटी की वजह से उन्हें प्राथमिकता दी जा रही है।

चोपड़ा ने ट्वीट किया, “इंग्लैंड में अश्विन से आगे गेंदबाज जडेजा को नहीं चुना जा रहा है… ये पैकेज जडेजा है। और ये 5 गेंदबाज की रणनीति को देखते हुए टीम के संतुलन के लिए है। याद रखें कि टीम का चयन न्याय के बारे में नहीं है… ये संतुलन के बारे में है।”

टीम इंडिया के सीनियर स्पिनर अश्विन अभी तक इस इंग्लैंड दौरे पर एक भी मैच नहीं खेल पाए हैं। जबकि जडेजा ने चार मैचों में 135 रन बनाने के साथ मात्र दो विकेट लिए हैं।